किसान आंदोलन : मुंबई के आज़ाद मैदान पहुंचे 30 हजार किसान, करेंगे विधानसभा का घेराव

संपूर्ण कर्जमाफी समेत विभिन्न मांगों को लेकर 30 हजार से अधिक किसान मुंबई के आजाद मैदान पर जुट गए। यह आंदोलन सीपीएम के किसान संगठन अखिल भारतीय किसान सभा के नेतृत्व में किया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार किसान सोमवार तड़के मुंबई के आजाद मैदान पहुंच गया। यहाँ विधानसभा का घेराव करेंगे। हजारों किसानों के समर्थन में सत्तारूढ़ शिवसेना और राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना भी उतर आई है।

किसानों से मिलने राज ठाकरे भी पहुंचे। उन्होंने किसानों को आश्वासन दिया कि वह हालत में किसानों के साथ है। जरुरत पड़ने पर हाज़िर हो जायेंगे। वहीं कांग्रेस ने भी किसानों को पहले ही समर्थन दे दिया है। ऐसे में अब सरकार पर दबाव बढ़ गया है। जिसके चलते कहा जा रहा है कि सोमवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और किसान सभा के प्रतिनिधि मंडल के बीच बातचीत हो सकती है।

इधर किसान मोर्चे के आंदोलन के कारण सोमवार को सुबह 9 बजे से रात 11 बजे तक ईस्टर्न एक्सप्रेस-वे पर बड़े वाहनों को प्रतिबंधित कर दिया गया है। हालाँकि छोटे वाहनों के लिए वन वे चालू रहेगा, जो 20 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ही वाहन चला पाएंगे। वहीं किसानों के रुख को देखते हुए विधानसभा के बाहर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात कर दिया गया है।

दूसरी तरफ देवेंद्र फड़णवीस सरकार में मंत्री और शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने भी किसानों से मुलाकात की। शिंदे ने बताया कि किसानों की बात रखने के लिए उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस से मुलाकात की।

इधर शनिवार को यात्रा में शामिल 5 किसानों की तबीयत अचानक बिगड़ गई। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के बाद किसानों को छुट्टी दे दी गई है। इन किसानों को पानी की कमी और कम ब्लड प्रेशर की शिकायत के बाद एडमिट कराया गया था।

ये हैं किसानों की मांगें?
एआईकेएस सचिव राजू देसले का कहना है कि किसानों ने पूरे कर्ज और बिजली बिल माफी के अलावा स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू की जाये। सरकार विकास, हाईवे और बुलेट ट्रेन के नाम पर जबर्दस्ती किसानों की जमीन छीनना बंद कर दे। साथ ही पिछले साल फडणवीस सरकार ने सशर्त किसानों का 34 हजार करोड़ रुपए का कर्ज माफी करने का एलान किया था। लेकिन फिर भी जून से अब तक 1753 किसानों ने खुदकुशी कर ली है। किसानों को उनकी फसल का सही दाम मिलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bitnami